कर्मचारियों के निलंबन और ट्रांसफर की उठी बात, प्रबंधन ने एक कान से सुनी, दूसरे से निकाली, प्रमोशन पॉलिसी पर चर्चा तक नहीं…

बीएसपी वर्कर्स यूनियन के प्रतिनिधि डिलेश्वर राव ने बायामेट्रिक का मुद्दा उठाकर प्रबंधन को घेरने की कोशिश की। प्रबंधन का एक ही जवाब आया कि केंद्र सरकार के आदेश पर अमल किया जा रहा है।


सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारियों के वेलफेयर को लेकर प्रबंधन और नौ ट्रेड यूनियन नेताओं के बीच हुई बैठक सकारात्मक बताई जा रही है। वहीं, इस पर कई सवाल भी कर्मचारियों की तरफ से उठा दिए गए। कर्मचारियों के निलंबन और ट्रांसफर का मुद्दा भी उठाया गया, लेकिन प्रबंधन ने एक कान से सुना दूसरे से निकाल दिया। कोई जवाब तक नहीं दिया। इस विषय को डायरी में जरूर नोट किया। प्रबंधन ने इस सवाल पर ध्यान तक नहीं दिया, जिसको लेकर यूनियन नेताओं ने कई सवाल खड़े कर दिए।

आत्महत्या करने ट्रेन के सामने कूदी महिला, फिल्मी स्टाइल में दौड़ते हुए बचाई जान, तीन ट्रेनों के लगे थे इमरजेंसी ब्रेक

इसी तरह नॉन एक्जीक्यूटिव प्रमोशन पॉलिसी को लेकर चल रहे विवाद पर बैठक में चर्चा तक नहीं हो सकी। एक बार भी किसी ने यह मुद्दा उठाया नहीं। प्लांट में रोज हंगामा हो रहा है। लेकिन प्रबंधन के साथ जब चर्चा का मौका मिला तो नेताजी चुप्पी साध गए।

ये खबर भी पढ़ें:भिलाई के सेक्टर-5 में भीषण सड़क हादसा, युवक की मौत, दो जख्मी

इस चुप्पी पर मान्यता प्राप्त यूनियन इंटक ने कटाक्ष किया है। अतिरिक्त महासचिव संजय साहू का कहना है कि विरोध करने वालों की खामोशी ने यह साबित कर दिया कि नॉन एक्जीक्यूटिव प्रमोशन पॉलिसी सबसे बेहतर है। इस पॉलिसी में जो कमी है, उसमें संशोधन कराएंगे। लेकिन हैरानी हुई कि जब प्रबंधन से सवाल पूछने का मौका मिला तो सब चुप थे।

दूसरी ओर बीएसपी वर्कर्स यूनियन के प्रतिनिधि डिलेश्वर राव ने बायामेट्रिक का मुद्दा उठाकर प्रबंधन को घेरने की कोशिश की। प्रबंधन का एक ही जवाब आया कि केंद्र सरकार के आदेश पर अमल किया जा रहा है। इसी तरह प्लांट में कर्मचारियों की संख्या के सर्वे पर प्रबंधन ने जवाब दिया कि यह आंतरिक मामला है। बेहतर कामकाज के लिए ऐसा किया जाता है।

ये खबर भी पढ़ें:दुर्गापुर स्टील प्लांट में बायोमेट्रिक को लेकर सुलग रहीं यूनियनें, इधर-मेडिकल में जल्द मिलेगी ऑनलाइन सुविधा

दूसरी ओर प्रबंधन ने यह साफ कर दिया कि पेमेंट स्लिप नहीं दी जाएगी। प्रबंधन ने कहा कि पेपरलेस वर्क किया जा रहा है। सरकार की गाइडलाइन है। ऑनलाइन सुविधा को और बेहतर करनी है तो बताइए।

ये खबर भी पढ़ें:डायरेक्टर इंचार्ज इंटर एलुमनी क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन कल, 17 टीमें खेलेंगी 35 मैच

बैठक में इंटक से संजय साहू, पूरन वर्मा, सीटू अध्यक्ष सविता मालवीय, महासचिव एसपी डे, मंच से राजेश अग्रवाल, बीएसपी वर्कर्स यूनियन के खूबचंद्र वर्मा, डिलेश्वर राव, स्टील वर्कर्स यूनियन के नंद कुमार गुप्ता, एटक से विनोद कुमार सोनी, लोइमू से प्रभाकर दासे, बंदन लाल गेंद्रे मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!