एफएसएनएल को बचाने के लिए पीएम मोदी को खून से लिखी भिलाई में चिट्‌ठी, दुर्गापुर की सभी यूनियनों व आफिसर्स एसोसिएशन ने किया संयुक्त प्रदर्शन

सूचनाजी न्यूज, भिलाई/दुर्गापुर। फेरो स्क्रैप निगम लिमिटेड-एफएसएनएल के निजीकरण के खिलाफ भिलाई में हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है। एफएसएनएल को निजीकरण से बचाने के लिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा प्रधानमंत्री के नाम हस्ताक्षर ज्ञापन अभियान चलाया गया। इस अभियान में कुछ कर्मियों द्वारा अपने खून से हस्ताक्षर कर प्रधानमंत्री से एफएसएनएल के निजीकरण को रोकने की गुहार लगाई गई।

विधायक-सांसद से गुहार लगाई जा चुकी है। इधर-दुर्गापुर स्टील प्लांट में ट्रेड यूनियन और आफिसर्स एसोसिएशन ने एक साथ विरोध-प्रदर्शन किया। एफएसएनएल को बचाने की आवाज बुलंद की। एफएसएनएल प्रबंधन को ज्ञापन सौंपा गया।

ये खबर भी पढ़ें:एनजेसीएस सब-कमेटी बैठक के बाद एटक नेता पहुंचे चेयरमैन के पास, निलंबन व ट्रांसफर की मार झेल रहे कर्मियों की वापसी का उठाया मुद्दा

एफएसएनएल के असिस्टेंट जनरल मैनेजर को ज्ञापन सौंपा गया है। केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ श्रमिक नेताओं ने आवाज बुलंद की। सरकार से मांग की है कि निजीकरण का फैसला वापस लिया जाए। प्रदर्शन में एटक से शम्भू चरण प्रमाणिक, तरुण दास, उत्तम मंडल, सीटू से विश्ववरूप बनर्जी व सिमंतो घोष, इंटक के विश्वजीत विश्वास, यूटीयूसी से अनिक मलिक, एचएमएस से सुकांत रक्षित और अरुप रॉय मौजूद रहे। आफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी भी शामिल थे।

ये खबर भी पढ़ें:कैम्पस प्लेसमेंट ड्राइव में बोकारो (प्रा.) आईटीआई के 158 बच्चों को दिया गया ऑफर लेटर

भिलाई में एफएसएनएल के निजिकरण के खिलाफ पिछले 50 दिन से लगातार एफएसएनएल कर्मियों द्वारा शांतिपूर्वक विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है। परन्तु उचित कार्यवाही नहीं होने से एफएसएनएल के अधिकारियो एवं ट्रेड यूनियनो के संयुक्त तत्वावधान में जन समर्थन हेतु हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। इस हस्ताक्षर अभियान में प्रधानमंत्री के नाम हस्ताक्षरित ज्ञापन दिया गया जिसमे एफएसएनएल जैसी लाभप्रद संस्था का निजीकरण न करने का अनुरोध किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: वाह! चीन की चाल को सेल-बीएसपी ने किया चित, थाईलैंड, नेपाल, यूएई तक भेजा एक लाख टन से ज्यादा स्टील

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!