ट्रांसपोर्ट एंड डीजल डिपार्टमेंट के कर्मचारी कर्म और अधिकारी बने पाली शिरोमणि

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र के परिवहन एवं डीजल संगठन विभाग कार्मिकों को उत्कृष्ट कार्य के लिए कर्म व पाली शिरोमिण पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। मुख्य महाप्रबंधक (ट्रैफिक) सभागार में शिरोमणि पुरस्कार योजना के अन्तर्गत मार्च व अप्रैल में उत्कृष्ट व अनुकरणीय कार्य संपादित करने वाले विभाग के कर्मचारियों एवं अधिकारियों को पुरस्कृत किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: ठेका मजदूरों का प्रदर्शन सेल की हर इकाइयों में, लेकिन बवाल सिर्फ भिलाई में, धक्का-मुक्की से बिगड़े हालात, देखिए तस्वीरें

इसी समारोह में जनवरी से मार्च 2022 के लिए पाली शिरोमणि पुरस्कार प्रदान किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि तीर्थंकर दस्तीदार ने मार्च के लिए मास्टर ऑपरेटर पोषण कुमार साहू एवं चार्जमैन कम मास्टर टेक्नीशियन संगीत कुमार कोरी तथा अप्रैल के लिए चार्जमेन कम टीएक्सआर गौतम कुमार कुंडु, ऑपरेटर कम टेक्नीशियन डी. विजय कुमार को विभाग में बेहतरीन कार्य निष्पादन के लिए कर्म शिरोमणि पुरस्कार से सम्मानित किया।

ये खबर भी पढ़ें: बीएसपी ने जीता सेल स्तरीय चेयरमैन ट्रॉफी फॉर यंग मैनेजर्स का खिताब

इसके तहत उन्हें स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति पत्र एवं उनकी धर्मपत्नी के लिए भी प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया। इसी क्रम में वरिष्ठ प्रबंधक सौरभ देशपांडे को जनवरी से मार्च 2022 के लिए पाली शिरोमणि पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

इस कार्यक्रम में मुख्य महाप्रबंधक (ट्रैफिक) तीर्थंकर दस्तीदार मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। इस अवसर पर महाप्रबंधक (ऑपरेशन) मनोज हयांकी, महाप्रबंधक (टेक्नीकल सर्विसेस) जीपी मलिक, वरिष्ठ प्रबंधक (कार्मिक) एमडी रेड्डी सहित टीएंडडी विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें:बोकारो स्टील प्लांट ने अपनाया सीएनजी और पीएनजी, डायरेक्टर इंचार्ज के घर में पीएनजी का लगा पहला कनेक्शन

इस सम्मान का मुख्य उद्देष्य अपने कार्यस्थल/पाली में नवीनता, संसाधनों का बेहतर उपयोग एवं संगठनात्मक उद्देश्यों को पूरा करने हेतु सुरक्षा के मानक मापदण्डों के साथ विभाग में उल्लेखनीय प्रदर्शन करने वाले कर्मठ एवं सृजनशील कर्मचारी को एक विशेष पहचान प्रदान कर सम्मानित करना है। इसके अन्तर्गत कर्मचारी को स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति पत्र एवं कार्मिक की धर्मपत्नी के लिए भी प्रशंसा पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जाता है।

ये खबर भी पढ़ें: दुलकी खदान में पहले नक्सलियों की थी धमक, अब बीएसपी के लौह अयस्क की चमक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!