घर पर ही हो इलाज, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के साथ, ढाई लाख श्रमिकों की भी सुधरी सेहत

0
cm slum health scheme
मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना से 31 लाख से ज्यादा लोगों का निःशुल्क इलाज 26 लाख 10 हजार 277 से अधिक मरीजों को निःशुल्क दवाएं दी हैं।
AD DESCRIPTION

सूचनाजी न्यूज,छत्तीसगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ऐसी परिकल्पना की थी स्लम बस्तियों में निवासरत लोगों का इलाज उनके घर पर ही हो। इसी उद्देश्य के साथ लागू की गई मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के माध्यम से अब तक 31 लाख से ज्यादा लोगों का इलाज मोबाइल मेडिकल यूनिट के चिकित्सा दल द्वारा स्लम बस्तियों में पहुंचकर किया गया है।

ये खबर भी पढ़े …नाइट एलाउंस और बकाया एरियर पर अब आई बात, डायरेक्टर पर्सनल केके सिंह बोले-दीपावली बाद शुरू होगी मीटिंग, इसी साल बढ़ेगा रात्रि भत्ता

योजना के तहत अब पूरे राज्य के नगरीय क्षेत्रों के स्लम बस्तियों में चिकित्सक, पैरामेडिकल टीम, मेडिकल उपकरण एवं दवाओं से लैस 120 मोबाइल मेडिकल यूनिट पहुंचकर लोगों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करा रही है। इस योजना के माध्यम से अब तक 6 लाख 74 हजार 121 मरीजों को पैथालॉजी टेस्ट की सुविधा मुहैया कराने के साथ ही 26 लाख 10 हजार 277 से अधिक मरीजों को निःशुल्क दवाएं दी गई हैं। योजना के तहत लाभान्वित मरीजों में दो लाख 52 हजार 263 श्रमिक भी हैं।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

ये खबर भी पढ़े …सेल कर्मचारियों व ट्रेनीज के खाते में 21 या 22 अक्टूबर को आएगी बोनस की रकम

ये खबर भी पढ़े …बोनस मीटिंग के ये दो नेता हैं सेल कर्मचारी, बंगाल पड़ा सब पर भारी…

छत्तीसगढ़ शासन के नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत अब तक राज्य के 169 नगरीय निकायों की स्लम बस्तियों में 38 हजार 990 कैम्प लगाकर लोगों की निःशुल्क जांच व उपचार कर दवाईयां दी गई हैं। नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि नगरीय क्षेत्रों की तंग बस्तियों के एवं अन्य जरूरत मंद लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें निशुल्क दवायें उपलब्ध कराया जाए।

ये खबर भी पढ़े …हड़ताल करने वाले सेल कर्मचारियों को नहीं मिलेगा पूरा बोनस

गौरतलब है कि राज्य के 14 नगर निगम क्षेत्रों की स्लम बस्तियों में रहने वाले लोगों को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के प्रथम चरण की शुरूआत 1 नवम्बर 2020 को हुई थी। इसके तहत 60 मोबाइल मेडिकल यूनिट द्वारा स्लम बस्तियों में जाकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण और उपचार एवं दवा वितरण की शुरूआत की गई थी। 31 मार्च 2022 को इसका विस्तार पूरे राज्य के नगरीय निकाय क्षेत्रों में किया गया तथा 60 और नई मोबाइल मेडिकल यूनिट शुरू की गई।

ये खबर भी पढ़े …भिलाई स्टील प्लांट ने सरिया उत्पादन में रचा कीर्तिमान, बीआरएम के खाते में आई उपलब्धि

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here