बीएसपी वर्कर्स यूनियन के प्रयासों से मर्चेंट मिल कैंटीन रविवार को भी खुली, कार्मिकों को मिली राहत


सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट के मर्चेंट मिल की कैंटीन रविवार को भी खुली रही। कर्मचारियों और अधिकारियों को चाय-नाश्ता और भोजन के लिए परेशान नहीं होना पड़ा। बीएसपी वर्कर्स यूनियन की मांग पर कैंटीन सेल प्रभारी ने आश्वासन दिया था कि रविवार को भी मर्चेंट मिल की कैंटीन खुली रहेगी, जिस पर अब अमल किया गया है। कर्मचारियों ने भी यूनियन के प्रति साधुवाद व्यक्त किया और तथा इस कैंटीन के खुले होने का लाभ लिया।

मर्चेंट मिल एवं आसपास के कर्मचारियों ने बीएसपी वर्कर्स यूनियन के प्रतिनिधि विमल पांडेय के नेतृत में बीएसपी वर्कर्स यूनियन के कार्यालय में पहुंचकर अपनी समस्या कार्यकारणी के समक्ष रखी थी। रविवार के दिन मर्चेंट मिल की कैंटीन बंद रहने के कारण कर्मचारियों को बहुत ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

विशेषकर ऐसे कर्मचारी जो मधुमेह रोग से पीड़ित है। उन्हें हर 2 घंटे में भोजन की आवश्यकता होती है। परंतु कैंटीन बंद होने के कारण उनको शारीरिक तकलीफों का भी सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में कैंटीन का खोला जाना बहुत ही आवश्यक है। जिस पर बीएससी वर्कर्स यूनियन का एक प्रतिनिधि मंडल यूनियन के अध्यक्ष उज्जवल दत्ता के नेतृत्व में सीजीएम एमएंडयू की बैठक में इस समस्या पर चर्चा किया।

उनके निर्देश पर भिलाई इस्पात संयंत्र की कैंटीन सेल प्रभारी से मिलने पहुंचे, जिसमें यूनियन के अध्यक्ष उज्जवल दत्ता के साथ यूनियन के कार्यकारी महासचिव शिव बहादुर सिंह, विमल कांत पांडे, अतिरिक्त महासचिव दिल्लेश्वर राव, सहायक महासचिव राजेश फिरंगी, उपाध्याय अमित बर्मन भी उपस्थित थे। यूनियन ने प्रबंधक कैंटीन सेल जी. विलियम, एन प्रभाकर राव को भी धन्यवाद दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!