Bhilai Steel Plant के अंकुश देवांगन ललित कला अकादमी पुस्तिका विमोचन के बने गवाह, BSP का बढ़ाया मान

Ankush Dewangan of Bhilai Steel Plant witnessed the release of Lalit Kala Academi booklet, increased the value of BSP

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। दृश्यकलाओं को समर्पित देश की प्रतिष्ठित संस्था ललित कला अकादमी नई दिल्ली देश के शीर्षस्थ कलाकारों को मान्यता देने के लिए उन पर महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट के रूप में समकालीन कला पुस्तिका प्रकाशित करती है। भारतीय कला जगत के लिए अति महत्वपूर्ण इस पुस्तक का विमोचन ललित कला अकादमी दिल्ली के बोर्डरूम में किया गया।
इस अवसर पर भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारी अंकुश देवांगन विशेष रूप से उपस्थित रहे। भिलाई इस्पात संयंत्र टाउनशिप के जनस्वास्थ्य विभाग में जूनियर हेल्थ इंस्पेक्टर अंकुश देवांगन ने नई दिल्ली में समकालीन कला नामक पुस्तक के विमोचन समारोह में भाग लिया।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

अंकुश देवांगन भिलाई इस्पात संयंत्र के पहले कलाकार हैं जो केन्द्र सरकार, संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार के अंतर्गत ललित कला अकादमी, दिल्ली में एक्जीक्यूटीव बोर्ड सदस्य बने हैं। इस उपलब्धिपूर्ण कार्य पर नगर सेवा विभाग के मुख्य महाप्रबंधक जे सप्काले, उप महाप्रबंधक (हार्टीकल्चर एवं पब्लिक हेल्थ) डॉ. एन के जैन, सहायक महाप्रबंधक सुनील कुमार झा, वरिष्ठ प्रबंधक आर के गुप्ता तथा ए. के. बंजारा सहित समस्त कर्मचारियों ने उन्हें बधाई दी है।

AD DESCRIPTION

इस दौरान मंच पर चेयरमेन प्रोफेसर वी नागदास, वाईस चेयरमेन नंदलाल ठाकुर, लेखक शैलेष द्विवेदी, श्री सुमन मजूमदार, प्रोफेसर ऋचा काम्बोज सहित अन्य सदस्य मौजूद रहे। अंकुश देवांगन ने भिलाई के सिविक सेंटर का भव्य कृष्ण-अर्जुन रथ, सेल परिवार चौक, भिलाई होटल का नटराज, रुआबांधा का पंथी चौक, बोरिया गेट का पी.एम. ट्राफी चौक, बोरिया गेट में ही 200 मिलियन स्मारक तथा सेक्टर 1 तथा सेक्टर 2 का श्रमवीर चौक बनाया है। इसके अलावा भी उन्होंने देश के विभिन्न शहरों में अनेकानेक कलाकृतियों का निर्माण करके संयंत्र के गौरव को बढ़ाया है।

AD DESCRIPTION

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *