Suchnaji

SAIL E0 Exam: जूनियर ऑफिसर परीक्षा में दें बोनस अंक और हटाएं रिजनिंग में क्वालीफाई मार्क

SAIL E0 Exam: जूनियर ऑफिसर परीक्षा में दें बोनस अंक और हटाएं रिजनिंग में क्वालीफाई मार्क
  • रिजनिंग के पेपर का स्तर बैंकिंग लेवल का था, जिसमें बहुत कठिन प्रश्न पूछे गए थे, जो सेल स्तर के कर्मचारियों के समझ से दूर थे।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल कर्मचारियों को अधिकारी बनाने के लिए ई0 परीक्षा (SAIL E0 Exam) में बोनस अंक देने की मांग की गई है। बीएसपी वर्कर्स यूनियन (बीडब्ल्यूयू) का कहना है कि जूनियर ऑफिसर परीक्षा में बोनस अंक देने और रिजनिंग में क्वालीफाई मार्क हटाने की वकालत की गई है।

AD DESCRIPTION R.O. No. 12697/ 111

18 मार्च को जूनियर ऑफिसर की परीक्षा दे चुके भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों ने बीएसपी वर्कर्स यूनियन कार्यालय पहुंचकर अपनी परेशानियों को यूनियन के साथ साझा किया, जिसमें ऐसे भी कर्मचारी शामिल थे जिन्होंने 6 नवंबर को आयोजित की गई परीक्षा को पास कर लिए थे। लेकिन इस बार की परीक्षा में रिजनिंग का पेपर बिगड़ जाने के कारण पास नहीं होने की संभावना जताई है।

AD DESCRIPTION R.O. No.12697/ 111

ये खबर भी पढ़ें:  Safety Award: 2021-22 में टाटा में एक भी मौत नहीं, जीता पहला अवॉर्ड, SAIL BSP के खाते में 7 पुरस्कार

कर्मचारियों ने बताया कि विषय वस्तु के आधार पर जूनियर ऑफिसर परीक्षा पेपर के चार पार्ट बनाए गए थे, जिसमें 25 नंबर भिलाई इस्पात संयंत्र के स्तर के, 25 नंबर सेल स्तर के, 30 नंबर जीएफएम (जनरल फंक्शनिंग मैनेजमेंट) तथा 20 नंबर रीजनिंग का पेपर था।

कर्मचारियों ने यूनियन के साथ अपनी बात साझा करते हुए बताया कि रिजनिंग के पेपर का स्तर बैंकिंग लेवल का था, जिसमें बहुत कठिन प्रश्न पूछे गए थे, जो सेल स्तर के कर्मचारियों के समझ से दूर थे, क्योंकि अधिकतर कर्मचारी 50 साल की उम्र पार कर चुके हैं। उनका सोचने का तर्कशक्ति का वह अस्तर नहीं रह गया है, जिस स्तर के तर्कशक्ति के प्रश्न पूछे गए थे।

ये खबर भी पढ़ें:  दिल्ली से चला CRPF महिला डेयरडेविल्स का दल पहुंच रहा नक्सलियों के गढ़, SAIL Bhilai Steel Plant ने किया स्वागत

प्रश्नों को हल करने के लिए 02 घंटे का समय भी बहुत कम था। कुछ कर्मचारियों ने बताया कि वह पहली बार कंप्यूटर पर बैठे थे। कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करें। एचआरडी में जो परीक्षा से संबंधित ट्रेनिंग दी जा रही थी, उसकी उन्हें जानकारी नहीं मिली। इस बात को मेडिकल सेक्टर-9 के अधिकतर कर्मचारियों ने कहा।

ये खबर भी पढ़ें:  इंडियन आयल 7 करोड़ बकाया देने का तैयार, SAIL BSP ने चोपड़ा पेट्रोल पंप का सील 5 अप्रैल तक तोड़ा, जानें हाईकोर्ट क्या बोला…

कर्मचारियों की परेशानी को देखते हुए बीएसपी वर्कर्स यूनियन ने सेल प्रबंधन एवं भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन से रीजनिंग में बोनस अंक देने की मांग की है। साथ ही यह भी मांग की है कि रिजनिंग में क्वालीफाई मार्क को समाप्त किया जाए, जिससे अन्य पार्ट में अधिक नम्बर पाए हैं तो परीक्षा पास कर सकें। अभी परीक्षार्थियों को सभी विषय में निर्धारित क्वालीफाई मार्क प्राप्त करने के बाद ही साक्षात्कार के लिए पात्र माना जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें:  SAIL E0 Exam Result: मार्च में आ सकता है रिजल्ट, अप्रैल प्रथम सप्ताह में इंटरव्यू की तैयारी, ये कर्मचारी नहीं बन सकेंगे अधिकारी

बीएसपी वर्कर्स यूनियन प्रबंधन से मांग की है कि जो कर्मचारी पिछली परीक्षा में पास हो गए थे, इस बार की परीक्षा में उनको प्राथमिकता के आधार पर क्वालीफाई मार्क को हटाकर साक्षात्कार के लिए अवसर प्रदान किया जाए।

इस अवसर पर यूनियन के अध्यक्ष उज्जवल दत्ता ने कहा कि बीएसपी वर्कर्स यूनियन का प्रतिनिधिमंडल कार्यपालक निदेशक कार्मिक एवं प्रशासन से मिलकर कर्मचारियों की आवाज को उच्च प्रबंधन एवं डायरेक्टर (इंचार्ज) पर्सनल स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया तक पहुंचाएगा, जिससे कर्मचारियों को न्याय संगत परिणाम मिल सके।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से यूनियन अध्यक्ष उज्जवल दत्ता, महासचिव खूबचंद वर्मा, कार्यकारी महासचिव शिव बहादुर सिंह, अतिरिक्त महासचिव टी दिलेश्वर राव, उपाध्यक्ष अमित बर्मन, शैलेश सिन्हा, उप महासचिव सी नरसिंह राव, जितेंद्र यादव, सहायक महासचिव विमल कांत पांडे, सुभाष चंद्र महाराणा, प्रदीप सिंह, मंगेश हरदास, संदीप सिंह, सचिव मनोज डडसेना, संगठन सचिव सुजीत सोनी, राजकुमार छत्रिय, डीपी सिंह, रविशंकर सिंह आदि उपस्थित थे।