Suchnaji

DPS की अवैध बाउंड्री कलेक्टर साहिबा तोड़वा दीजिए, नहीं होगा ट्रैफिक जाम

DPS की अवैध बाउंड्री कलेक्टर साहिबा तोड़वा दीजिए, नहीं होगा ट्रैफिक जाम
  • हुडको संघर्ष समिति के संयोजक एंव जिला कांग्रेस कमेटी भिलाई के प्रवक्ता जावेद खान एवं बीएल मालवीय ने उठाया मुद्दा।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। रूआबांधा चौक से लेकर आजाद मार्केट रिसाली तक दिल्ली पब्लिक स्कूल-डीपीएस (Delhi Public School – DPS) रिसाली की वजह से लगने वाले जाम का स्थाई समाधान निकाला जाना अब बेहद जरूरी हो गया है, जिसे लेकर सोमवार को बड़ा प्रयास किया गया।

ये खबर भी पढ़ें : Latest Job 2024: 100-50 रुपए में पाइए झारखंड में सरकारी नौकरी, 510 Post, 57 हजार मिलेगी Salary

AD DESCRIPTION

हुडको संघर्ष समिति के संयोजक एंव जिला कांग्रेस कमेटी भिलाई के प्रवक्ता जावेद खान एवं बीएल मालवीय ने कलेक्टर ऋचा प्रकाश चौधरी और उप पुलिस अधीक्षक यातायात सतीश ठाकुर से मिल कर सुझाव दिया।

ये खबर भी पढ़ें : Latest Job 2024: 100-50 रुपए में पाइए झारखंड में सरकारी नौकरी, 510 Post, 57 हजार मिलेगी Salary

जावेद खान ने बताया कि भिलाई शहर की आबादी पिछले कुछ वर्षों से जिस तरह बढ़ रही है, उसी तारतम्य में निजी कालोनी और आवास का विस्तार रिसाली क्षेत्र में बहुत ही वृहद स्तर पर पिछले कुछ दिनों में हुआ है। यातायात का दबाव इस सड़क पर सुबह छह बजे से रात दस बजे तक देखा जा सकता है।

ये खबर भी पढ़ें : Latest Job 2024: 100-50 रुपए में पाइए झारखंड में सरकारी नौकरी, 510 Post, 57 हजार मिलेगी Salary

भिलाई के प्रतिष्ठित स्कूल डीपीएस के तीनों मुख्य द्वार इसी सड़क पर खुलते हैं और सुबह स्कूल लगने के समय और छुटने के समय यहां जाम की स्थिति निर्मित हो जाती है, जो कि सुरक्षा की दृष्टि से बिल्कुल भी उचित नहीं है। हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है।

ये खबर भी पढ़ें : Latest Job 2024: 100-50 रुपए में पाइए झारखंड में सरकारी नौकरी, 510 Post, 57 हजार मिलेगी Salary

इसके समाधान हेतु अगर डीपीएस प्रबंधन अपनी बाउंड्री वाल तीस फीट अन्दर की तरफ कर ले तो भी वर्तमान सड़क का चौड़ीकरण हो सकता है, क्योंकि स्कूल की मुख्य बिल्डिंग और बाउंड्री वाल के बीच आज भी चालीस फ़ीट जगह मौजूद है।

ये खबर भी पढ़ें : Exclusive News: पेंशनर्स का दावा-RTI से खुला राज हर दिन करीब 200 पेंशनभोगी की मौत, EPFO-सरकार पर गुस्सा

स्थित चोपड़ा पेट्रोल पम्प के सामने की सड़क पर ये सुझाव

इसके अलावा फारेस्ट एवेन्यू स्थित चोपड़ा पेट्रोल पम्प के सामने की तरफ अपनी निजी सड़क बना कर तीनों प्रवेश द्वार और स्कूल बसों का आवागमन इसी रास्ते से करे तो काफी हद तक समस्या का समाधान हो सकता है। ऐसा करना डीपीएस प्रबंधन के लिए कोई मुश्किल भी नही है, क्योंकि वर्तमान में बाउंड्री वाल के अन्दर की तरफ प्रबंधन के पास काफी जगह मौजूद है।

ये खबर भी पढ़ें : सरकारी नौकरी: काशी हिन्दू विश्ववविद्यालय में Job, 2 लाख से ज्यादा मिलेगी Salary, BHU में ऐसे करें Apply

डीपीएस मरोदा स्कूल में भी काफी जगह है

इसके अलावा डीपीएस मरोदा स्कूल में भी काफी जगह है और दोनों स्कूल में दूरी भी ज्यादा नहीं है। रिसाली डीपीएस स्कूल में होने वाले सभी बड़े आयोजन मरोदा स्कूल में करवा कर भी जाम की स्थिति से बचा जा सकता है।

ये खबर भी पढ़ें : Employees Pension Scheme 1995: मामूली पेंशन और जीर्ण बैंक बैलेंस में बीमार जीवनसाथी की देखभाल…

इस सुझाव सहित सौंपे आवेदन के माध्यम से जनहित में कलेक्टर से निवेदन किया गया है कि अब समय आ गया है कि अवागमन में आ रही बाधा को दूर करते हुए सुरक्षित यातायात व्यवस्था प्रदान किया जाए, जिस पर कलेक्टर ने यातायात उप पुलिस अधीक्षक से इसे प्राथमिकता देते हुए रोड सेफ्टी की बैठक मे रखनें को कहा है।

ये खबर भी पढ़ें : 7500 EPS 95 Pension: मेडिकल, रेलवे, बस, हवाई यात्रा पर पेंशनभोगियों को चाहिए 50% छूट