Suchnaji

CIL NEWS: कोल आपूर्ति के लिए वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड और NTPC के बीच समझौता

CIL NEWS: कोल आपूर्ति के लिए वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड और NTPC के बीच समझौता
  • एनटीपीसी के महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और कर्नाटक स्थित प्लांट में कोयले की आपूर्ति की जाएगी।

सूचनाजी न्यूज, नागपुर। कोल आपूर्ति के उद्देश्य से कॉस्ट प्लस के आधार पर वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) (Western Coalfields Limited (WCL)) एवं एनटीपीसी लिमिटेड (NTPC Limited) ने समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस समझौते के अनुसार वेकोलि के बल्लारपुर क्षेत्र की गौरी सेंट्रल खुली खदान से एनटीपीसी लिमिटेड के प्लांट को कोयले की आपूर्ति की जाएगी।

ये खबर भी पढ़ें : विश्व पर्यावरण दिवस 2024: बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन ने बढ़ाया कदम, प्रकृति बिन जीवन असंभव

AD DESCRIPTION

वेकोलि मुख्यालय में आयोजित समारोह में अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक जेपी द्विवेदी, निदेशक तकनीकी (संचालन एवं योजना/परियोजना) एके सिंह, निदेशक (वित्त) बिक्रम घोष तथा एनटीपीसी के प्रदीप्ता कुमार मिश्रा, कार्यकारी निदेशक (एफ़एम) की उपस्थिति में यह समझौता किया गया।

ये खबर भी पढ़ें : Lok Sabha Election 2024: NDA के नेता चुने गए Modi, इधर INDIA गठबंधन सरकार बनाने लगा रही दम

इस समझौते पर वेकोलि के ओर से महाप्रबंधक (योजना/परियोजना) राकेश प्रसाद एवं एनटीपीसी के ओर से प्रेम प्रकाश, क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (WR-1 & SR), चिलकापाटी शिवकुमार, क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (WR-2) ने हस्ताक्षर किए।

ये खबर भी पढ़ें : भिलाई स्टील प्लांट और टाउनशिप की बिल्डिंग की छतों पर दिखेगा सोलर एनर्जी सिस्टम

इस अवसर पर वेकोलि के महाप्रबंधक (सेल्स और मार्केटिंग) जॉर्ज मैथ्यू तथा वेकोलि एवं एनटीपीसी के अधिकारी प्रमुखता से उपस्थित थे। वेकोलि एवं एनटीपीसी का यह समझौता 17 साल के लिए लागू होगा। इस समझौता के अंतर्गत वेकोलि अपने बल्लारपुर क्षेत्र की गौरी सेंट्रल खुली खदान से कॉस्ट प्लस के आधार पर एनटीपीसी के प्लांट को प्रति वर्ष 6.1777 मिलियन टन कोयली की आपूर्ति की जाएगी।

ये खबर भी पढ़ें : World Environment Day 2024: वॉकथॉन के बाद बीएसपी कर्मचारियों-अधिकारियों ने रोपे 400 फलदार पौधे

उल्लेखनीय है की, वेकोलि के बल्लारपुर क्षेत्र की गौरी सेंट्रल खुली खदान वेकोलि की दूसरी सबसे बड़ी खदान है। इस खदान की 7 मिलियन टन प्रति वर्ष की क्षमता है। जिससे एनटीपीसी के महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और कर्नाटक स्थित प्लांट में कोयले की आपूर्ति की जाएगी।

ये खबर भी पढ़ें : Bhilai Steel Plant: पर्यावरण के लिए पीबीएस की मुहिम, जीवन बचाने की राह पर बढ़े कार्मिक